SuttaCentral

Translation help please

bhantesujato
pindapata
Tags: #<Tag:0x00007fc455893e80> #<Tag:0x00007fc455893d18>

#1

Bhante Sujato is now living in Harris Park, a suburb of Sydney, in the state of New South Wales, Australia. For those of you not in Sydney, Harris Park is located 23 kilometres west of the Sydney CBD in the local government area of the City of Parramatta and is part of the Greater Western Sydney region.
Harris Park is also known as Little India these days but there is a good representation of Australian, Lebanese and Mediterranean communities in this colourful suburb. For more infor: Harris Park (Little India), a day in this Sydney suburb | Travel with Joanne

The tradition of Pindapata seems foreign to the locals. To create awareness and help the monks on pindapata, we like to distribute the following information to the residents.

Can someone please translate this to Hindi?? Here goes…

A marvellous Indian Tradition is back on your door step.

If you see two Australian Buddhist monks in yellow robes carrying a round bowl remember they are practicing an age old Indian custom today!

Keep it alive!! Offer some food if they come to your front door.

The word Pindapata is a combination of two words “Pinda” and “Pata”. “Pinda” means “a lump of food” and “Pata” means “bowl”. Therefore, “Pindapata” means literally “placing of food in a bowl”.

The Pindapata is not just begging. It’s a totally different and more a special meaningful custom. The custom helps to develop qualities like contentedness and humility.

They do not differentiate between the rich and poor, between the high and the low castes and goes to all the households when going on Pindapata.

Please take time to offer some food to the monks on PINDAPATA.


#2

What a great idea. I think ven. Nibbuto of Bodhinyana speaks hindi. Hope he can help.


#3

Someone we know did this translation, anyone out there who can check before printing?

पिंडपात

एक अद्भुत भारतीय परंपरा आपके दरवाजे पर वापस आ गई है।

यदि आप दो ऑस्ट्रेलियाई बौद्ध भिक्षुओं को पीले वस्त्र में एक गोल कटोरा लिए हुए देखते हैं, तो याद रखिएगा कि वे आज भी एक पुराने भारतीय रिवाज का पालन कर रहे हैं।

आप भी इसे जीवित रखें !! अगर वे आपके दरवाजे पर आते हैं, तो उन्हें कुछ खाना या खाने का सामान दें।

पिंडपात शब्द दो शब्दों “पिंड” और “पात” का संयोजन है। “पिंड” का अर्थ है “भोजन” और “पात” का अर्थ है “कटोरा”। इसलिए,“पिंडपात” का शाब्दिक अर्थ है “कटोरे में भोजन रखना”।

पिंडपात सिर्फ भीख माँगना नहीं है। यह पूरी तरह से अलग और इससे भी अधिक एक विशेष एवं अर्थपूर्ण प्रथा है। यह प्रथा भिक्षुक गुणों को विकसित करने में मदद करता है जैसे कि संतोष और विनम्रता।

वे (भिक्षु) अमीर और गरीब या उच्च और निम्न जातियों के बीच अंतर नहीं करते हैं एवं पिंडपात में सभी घरों में भिक्षा के लिए जाते हैं ।

कृपया पिंडपात पर भिक्षुओं को कुछ भोजन देने का समय निकालें।

सादर।


#4

You are so wise!!! Sadhu! :pray:


#5

Hi Deepika, ven. Nibutto just now confirmed that the hindi translation has the general idea of the message. However, he didn’t vouch for the word to word meaning. :pray:t4:


#6

@saukap, could you have look at this for us?


#7

Sure Bhante, the existing translation is pretty good. If it was at 95% earlier, I’ve just made a few minor edits and pushed it to 97%.

पिण्डपात

एक अद्भुत भारतीय परंपरा आपके निकट वापस आ गई है।

यदि आप दो ऑस्ट्रेलियाई बौद्ध भिक्षुओं को पीले वस्त्र में एक गोल कटोरा लिए हुए देखते हैं, तो याद रखिएगा कि वे आज भी एक प्राचीन भारतीय रिवाज का पालन कर रहे हैं।

आप भी इस प्रथा को जीवित रखें !! अगर वे आपके दरवाजे पर आते हैं, तो उन्हें कुछ खाना या खाने का सामान दें।

पिण्डपात शब्द दो पाली शब्दों “पिण्ड” और “पात” का संयोजन है। “पिण्ड” का अर्थ है “भोजन” और “पात” का अर्थ है “कटोरा”। इसलिए,“पिण्डपात” का शाब्दिक अर्थ है “कटोरे में भोजन रखना”।

पिण्डपात केवल भीख माँगना नहीं है। यह पूरी तरह से अलग और, इससे भी अधिक, एक विशेष एवं अर्थपूर्ण प्रथा है। यह प्रथा भिक्षुओं में संतोष एवं विनम्रता और देनेवालों में उदारता के गुणों को विकसित करने में मदद करती है।इस प्रथा को भिक्षाटन भी कहा जाता है।

वे (भिक्षु) अमीर और गरीब या उच्च और निम्न जातियों के बीच अंतर नहीं करते हैं एवं पिण्डपात में सभी घरों में भिक्षा के लिए जाते हैं।

कृपया पिण्डपात पर भिक्षुओं को कुछ भोजन देने का समय निकालें।

सादर।


#8

Sadhu! will send to the printers.